मजदूर- हुजूर, चालक का काम करते थे ,सीएम- भरोसा कीजिए रोजगार मिलेगा

मुख्यमंत्री नीतिश कुमार रविवार को सुबह 11:30 से 11:45 तक बजे सुल्तानगंज ब्लाक कैंपस स्थित बनाए गए ई-किसान भवन क्वारेंटाइन सेंटर में रहे 20 महिला-पुरुष प्रवासी मजदूराें और इसके बाद जगदीशपुर में माउंट लिटेरा जी के प्रवासियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग सीधे रूबरू हुए। मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है या नहीं, यह जाना।

उनके दुख-दर्द को जाना और कहा आप घबराएं नहीं भरोसा कीजिए, सरकार आप के गांव में ही रोजगार मुहैया कराया जाएगा। महाराष्ट्र से आए प्रवासी मजदूर सुमन कुमार, अमरेश कुमार से सीएम ने पूछा कि आप कहां से और कब आए, यहां कैसी व्यवस्था है। क्या काम करते थे। क्वारेंटाइन सेंटर में सुविधा मिल रही है या नहीं। सीएम को बताया कि वे राजमिस्त्री व चालक का काम करते थे।

15 मिनट तक चले वीसी में मजदूरों से बातचीत के बाद सीएम ने वीसी के माध्यम से ही क्वारेंटाइन सेंटर में उपलब्ध सुविधाओं में जैसे खाना, शौचालय, शयनकक्ष, बाथरूम को भी देखा। सीएम ने वीसी के माध्यम से सीएम ने यहां सभी पहलुअाें को देखा और जो भी यहां आवासीत लोग रह रहे हैं, उनसे रेंडमली जानकारी ली।

श्रमिकों के स्किल का उपयोग जिले में हो
सुल्तानगंज के बाद मुख्यमंत्री को जगदीशपुर क्वॉरेंटाइन सेंटर में रह रही युवती ने अपने स्कील की जानकारी दी। श्रमिकों ने अपना यात्रा वृत्तांत बताया। मुख्यमंत्री ने डीएम से कहा कि जो लोग हुनरमंद है, प्रशिक्षण प्राप्त हैं। उनके हुनर के अनुसार क्वारेंटाइन की अवधि समाप्त होने पर उनसे उस तरह के काम के लिए उनके स्किल का उपयोग किया जाए।

उनके स्किल का उपयोग जिले में हो। जिससे उन्हें रोजगार मिले और वे खुशहाल जीवन यापन कर सकें। जगदीशपुर डीएम प्रणव कुमार, प्रशिक्षु आईएएस आशुतोष द्विवेदी, सिविल सर्जन, डीआरडीए डायरेक्टर, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी बिंदुसार मंडल अन्य पदाधिकारी मौजूद थे। वहीं सुल्तानगंज में एडीएम राजेश झा राजा, बीडीओ प्रभात रंजन, एसडीएम आशिष नारायण, सीओ शशिकांत कुमार, नप एग्जिक्यूटिव अफसर सुमित्रानंदन, सीडीपीओ संगीता कुमारी आदि उपस्थित थीं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Workers- Huzoor, used to work as a driver, CM- Trust will get employment


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2A5NxXr
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments