घरों से निकलकर लोग कार को बना रहे क्वारैंटाइन सेंटर, गाड़ियों में मनाए जा रहे जन्मदिन; तस्वीरों में देखें कैसे वाहनों में आया समाज

कोरोनावायरस महामारी के इस दौर में जहां लोग अपने घरों में कैद हैं या डर के साए में बाहर निकल रहे हैं। वहीं, ऑटोमोबाइल्स इस दौरान एक अहम भूमिका निभा रहा है। अब कार केवल एक जगह से दूसरी जगह पर जाने के लिए नहीं, बल्कि पीपीई के तौर पर घर का काम कर रही है। लोग बच्चों के जन्मदिन, करीबियों से गपशप और यहां तक कि शादियां भी कार की मदद से सेलिब्रेट कर पा रहे हैं।

महामारी और खतरे के बीच लोग अपने परिवारों के साथ अच्छा वक्त बिता पा रहे हैं। इसका कारण है ऑटोमोबाइल। लोग सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करते हुए सुरक्षित रहकर अपने काम कर पा रहे हैं। कार की मदद से जीने का एक और तरीका आया है, जिसे पहियों पर समाज भी कहा जा रहा है।

जर्मनी में नए खुले ड्राइव इन थियेटर में परफॉर्म करते आर्टिस्ट

नए ट्रैंड ने समाज में कई बदलाव किए हैं। इसमें समुदाय से लेकर बिजनेस करने के नए तरीके शामिल हैं। ड्राइव इन थियेटर्स में लोगों कीएक बार फिर दिलचस्पी बढ़ी है। लोग अब गाड़ी साइड में खड़ी कर बातचीत करते हैं। आमतौर पर एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ में रहने वाले कार चालक अब साथ चलने में भरोसा करते हैं।

टेक्सास स्थित एक ड्राइव इन थियेटर में आयोजित शादी में शामिल हुए दोस्त और रिश्तेदार

यूनिवर्सिटी ऑफ वर्जीनिया में एसोसिएट प्रोफेसर पीटर डी नॉर्टन कहते हैं कि, यह एक तरह की पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट हैं। आप खुद को इनमें सील कर सकते हैं। घर का सामान खरीदने से लेकर खुली हवा में सांस लेने के लिए परेशान हो रहे लोग कार की मदद ले रहे हैं।

क्या महामारी के ये नियम समाज के गाड़ियों से संबंध को बदल रहे हैं?
डॉक्टर नॉर्टन ने कहा कि, "मुझे लगता है यहां कुछ निरंतरताएं हैं। कार को बहुत पहले से दुनिया के खिलाफ शील्ड के तौर पर माना जाता है।" काफी कुछ चीजें ऑनलाइन चल रही हैं। कॉन्फ्रेंस कॉल से लेकर जूम वीडियो चैट तक, गाड़ियों ने इस दूरी को कम करने की अनुमति दी है।

डीजे फ्रांस जिमर के कार्यक्रम में उत्साह दिखाते दर्शक

गाड़ियों ने अपने मालिकों को अपनी दुनिया बड़ी करने का मौका दिया। अब क्वारैंटाइन जोन चार दीवारों से उठकर कार के दरवाजों के पीछे आ गए हैं। इसका मतलब है लोगों के अब और भी कॉन्टेक्ट हो सकते हैं। सुरक्षित रहते हुए दूरी में मामूली रियायत कई छोटे बिजनेस के लिए काफी जरूरी हैं।घरों और इमारतों में होने वाले कार्यक्रम अब बाहर आ गए हैं।

लॉस वेगास में परिवार के फोटो सेशन भी कार के जरिए किए जा रहे हैं

ऐसा ही मेसाचुसेट्स में आर्टिस्ट एसोसिएशन ऑफ नान्टुकेट के मेले में हुआ। यहां 120 फुट लंबी पार्किंग को इस महीने गैलरी के रूप में तैयार किया गया था। यह कांच के जरिए वॉटरकलर थे। नियम वही था कि, केवल देखें, छुएं नहीं। दर्जनों कला प्रेमी और खरीददार आए और रुककर दूरी पर से इसे देखा।

ग्रेजुएट्स आप ड्राइव थ्रू सेरेनमी के जरिए सेलिब्रेट कर रहे हैं। ओडेसा, टेक्सास में परिवार और टीचर्स चीयर करने बाहर आए

सीडीसी ने जारी की हैं सख्त गाइडलाइंस
सेंटर्स फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने सफर करते वक्त सोशल डिस्टेंसिंग और हाथ धोने को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं। बैंक और फार्मेसी जैसे जरूरी कामों के लिए ड्राइव थ्रू सेवा की सलाह दी जाती है। कई देशों में बड़े स्तर पर लोगों के एकसाथ जुटने पर पाबंदी है। लेकिन कुछ चर्च ने प्रार्थना करने वालों को कार में रहकर यह काम करने की सेवा दी हैं। द जेनोआ बाप्टिस्ट चर्ज के अनुसार, आप जैसे आते हैं आएं, लेकिन कार में ही रहें। चर्च ऑनलाइन सुविधा भी उपलब्ध करा रहा है।

धार्मिक कार्यक्रम के दौरान आर्कबिशप फ्रेंकोइस टॉवेट

एक इंटरव्यू के दौरान पादरी फ्रैंक कार्ल ने कहा था कि, उन्होंने 15 मार्च से ही पार्किंग में प्रवचन देना शुरू कर दिया था। इस पार्किंग लॉट में 600 कारें आ सकती हैं और कभी-कभी यह बढ़कर सड़क तक पहुंच जाती हैं। उन्होंने कहा कि, छोटे बच्चों वाले परिवारों को लगता है कि वे घर के बाहर आ गए हैं। कभी-कभी बिल्डिंग के आसपास गाड़ियां खड़ी हो जाती हैं, जहां लोग उन्हें देख नहीं पाते, लेकिन सुन सकते हैं। उन्होंने कहा, लोग एकसाथ आते हैं लेकिन गाड़ियों में अलग होते हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
अमेनिया स्थित फोर ब्रदर्स ड्राइव इन थियेटर में फिल्म 'ट्रोल्स वर्ल्ड टूर' देखते बच्चे


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2A6y6hq
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments