सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को दिल्ली सरकार को फटकार लगाई। कोर्ट ने कहा था कि अगर कोरोना मरीजों की लाशें कचरे के ढेर में मिल रही हैं तो ये इंसानों के साथ जानवरों से भी बदतर सलूक है। इसका असर ये हुआ कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने खुद मोर्चा संभाल लिया है और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अब बैक सीट पर नजर आ रहे हैं।

शाह ने रविवार सुबह दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री केजरीवाल के साथ करीब डेढ़ घंटे चर्चा की। शाम को दिल्ली के सभी मेयर के साथ म्युनिसिपल लेवल की स्ट्रैटजी पर बात की। इस सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए शाह ने आज 11 बजे ऑल पार्टी मीटिंग (सर्वदलीय बैठक) बुलाई है। इसमें कोरोना मैनेजमेंट का रिव्यू किया जाएगा।

शाह-केजरीवाल की मीटिंग में 5 अहम फैसले हुए
न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक आज की बैठक में कांग्रेस, भाजपा, आप और बसपा के नेता शामिल होंगे। दिल्ली और केंद्र सरकार के सीनियर ऑफिसर भी मौजूद रहेंगे। इससे पहले रविवार को अमित शाह की केजरीवाल के साथ हुई मीटिंग में 5 अहम फैसले लिए गए।

ये 4 फैसले भी हुए
1.
कोरोना टेस्टिंग का रेट दोबारा तय होगा। इसके लिए बनाई गई कमेटी को आज रिपोर्ट देनी है।
2. स्काउट गाइड, एनसीसी, एनएसएस और दूसरे सेल्फ हेल्प ग्रुप के मेंबर्स को हेल्थ वॉलंटियर बनाया जाएगा।
3. अंतिम संस्कार की नई गाइडलाइन जारी की जाएगी, ताकि इसके लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़े।
4. दिल्ली के छोटे अस्पतालों की मदद के लिए एम्स में हेल्पलाइन नंबर शुरू किया जा रहा है। इस नंबर पर सीनियर डॉक्टर सलाह देंगे।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
रविवार को अमित शाह की अरविंद केजरीवाल के साथ मीटिंग में फैसला हुआ कि 8000 बेड की कैपेसिटी वाले रेलवे के 500 कोच दिल्ली को दिए जाएंगे।


from Dainik Bhaskar /national/news/shah-leads-delhis-charge-against-covid-19-kejriwal-in-back-seat-127411844.html
via IFTTT