कोरोनावायरस ने खेल के नियम बदल दिए हैं। क्रिकेट हो या फुटबॉल, अब सभी खेलों में प्लेयर्स मिलकर जश्न नहीं मना पाएंगे, क्योंकि उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग रखनी होगी। ज्यादातर टूर्नामेंट की शुरुआत अब बगैर दर्शकों के ही हो रही है।

13 मार्च को आखिरी इंटरनेशनल क्रिकेट मैच हुआ था
कोरोना का पहला मामला 31 दिसंबर 2019 को चीन के वुहान से सामने आया था। खेल पर इसका असर मार्च से शुरू हुआ। 13 मार्च को सिडनी में ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड के बीच आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला गया था। वहीं, यूरोप में दूसरे नंबर की सबसे बड़ी फुटबॉल लीग ला लिगा का आखिरी मैच 11 मार्च को हुआ था। ला लिगा11 जून से फिर शुरू हो गई है।

विंबलडन रद्द और यूएस-फ्रेंच ओपन होना तय नहीं
इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी 8 जुलाई को इंग्लैंड में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच से हो रही है। कोरोना के कारण टेनिस में सबसे बड़े ग्रैंड स्लैम विंबलडन को रद्द कर दिया गया। दूसरे विश्व युद्ध के बाद पहली बार यह टूर्नामेंट रद्द हुआ है। 24 अगस्त से यूएस ओपन और 20 सितंबर से होने वाले फ्रेंच ओपन पर खतरा मंडरा रहा है।

आईसीसी ने क्रिकेट में बॉल चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर रोक लगाई।

क्रिकेट में नए नियम

  • इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने बॉल चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल को बैन कर दिया है। हर टीम को एक पारी में 2 बार वॉर्निंग दी जाएगी। तीसरी बार में पेनाल्टी के तौर पर बैटिंग करने वाली टीम के खाते में 5 रन जोड़ दिए जाएंगे।
  • सभी क्रिकेट बोर्ड को कोरोना की वजह से आर्थिक नुकसान हुआ है। इसकी भरपाई के लिए टेस्ट में खिलाड़ियों की जर्सी और स्वेटर के अगले हिस्से पर 32 इंच के लोगो (विज्ञापन) लगाने की मंजूरी दी गई है।
  • पहले सिर्फ वनडे और टी-20 में ही खिलाड़ियों को जर्सी के अगले हिस्से पर ऐसा करने की इजाजत थी।
  • टेस्ट में कोरोना कन्कशन भी होगा। यानी 5 दिन के मैच में किसी खिलाड़ी के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उसकी जगह सब्स्टीट्यूट को मैदान पर उतारा जा सकता है। नियम के मुताबिक, बैट्समैन की जगह बैट्समैन ही टीम में आएगा। बॉलर के मामले में भी ऐसा ही होगा। संक्रमित खिलाड़ी की जगह कौन लेगा, इसका फैसला मैच रैफरी करेगा।
  • अब दो देशों के बीच होने वाली सीरीज में दोनों फील्ड अंपायर और मैच रैफरी घरेलू ही होंगे। पहले घरेलू सीरीज में न्यूट्रल अंपायरों (विदेशी) को रखा जाता था।
टेनिस में खिलाड़ी को मैच के दौरान टॉवेल समेत सभी सामान खुद ही लेने होंगे।

इस साल न्यूयॉर्क में 24 अगस्त से 13 सितंबर तक यूएस ओपन और पेरिस में 20 सितंबर से 4 अक्टूबर तक फ्रेंच ओपन होना है। अमेरिकी टेनिस एसोसिएशन (यूएसटीए) में प्रोफेशनल टेनिस की सीईओ स्ट्रेसी एलेस्टर ने कहा कि यूएस ओपन के लिए यूरोप, दक्षिण अमेरिका और पश्चिम एशिया से खिलाड़ियों को चार्टर्ड प्लेन से न्यूयॉर्क लाया जाएगा। यानी वे आम पैसेंजर प्लेन में ट्रेवल नहीं करेंगे।

कई देशों में वर्चुअल फैंस के साथ फुटबॉल लीग शुरू
जर्मनी में बुंदेसलिगा को 16 मई से शुरू कर दिया गया है। कोरोना के बीच शुरू होने वाली यह यूरोप की पहली बड़ी लीग है। साथ ही स्पेनिश ला लिगा भी 11 जून से पटरी पर लौट आई है। इनके अलावा इंग्लैंड की प्रीमियर लीग (ईपीएल) 17 और इटली की सीरी-ए लीग को 20 जून से शुरू होना है। रूस में फुटबॉल के मैच अगले महीने से शुरू होंगे। रूस की प्रीमियर लीग ऐसा इकलौता फुटबॉल टूर्नामेंट है, जो दर्शकों के साथ होगा।

बुंदेसलिगा में खिलाड़ी कोहनी मिलाकर जश्न मना रहे हैं।

जर्मनी की बुंदेसलीगा में गोल करने के बाद खिलाड़ी गले मिलकर जश्न मनाने की बजाय कोहनी मिला रहे हैं, थम्स-अप कर चीयर कर रहे हैं।

टीवी स्क्रीन के जरिए दानिश सुपरलिगा में फैन्स स्टेडियम तक पहुंचे।

डेनमार्क की दानिश सुपरलिगा में फैन्स की मौजूदगी के लिए स्टेडियम में टीवी स्क्रीन लगाई गईं। इनमें ऐप पर लाइव मैच देख रहे फैन्स को दिखाया जा रहा है। स्टेडियम में लगे स्पीकर से उनकी आवाज भी सुनाई जाती है।

ला लिगा में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके खाली स्टेडियम में दर्शकों की मौजूदगी दिखाई जा रही है।

ला लिगा 93 दिन बाद शुरू हुई। पहले मैच में सेविला ने रियाल बेटिस को 2-0 से हराया। मैच के ब्रॉडकास्ट में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके खाली स्टेडियम में दर्शकों की मौजूदगी दिखाई गई। वर्चुअल फैन्स होम टीम के कलर में नजर आए। गोल होने पर दर्शकों की पहले से ही रिकॉर्ड की गई आवाज प्ले की गई। हालांकि, यह आवाज इतनी कम थी कि मैच के दौरान ज्यादातर वक्त सुनाई ही नहीं दी।

चाइनीज लीग में कटआउट और डमी के सामने चीयरलीडर्स ने डांस किया।

ताइवान में चाइनीज लीग के दौरान भी फैंस के कटआउट और डमी लगाई गईं। दर्शकों की जगह रोबोट को बैठाया गया है। चीयरलीडर्स उनके सामने परफॉर्म कर रही हैं।

4. बैडमिंटन के टूर्नामेंट 2021 में पूरा होंगे
बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (बीडब्ल्यूएफ) ने कोरोनावायरस के कारण टाले या रद्द किए गए टूर्नामेंट्स को 2021 के पहले 17 हफ्ते में ही पूरा कराए जाने का फैसला किया है। टोक्यो ओलिंपिक के कोटा के लिए इन सभी टूर्नामेंट्स के पॉइंट्स को आधार माना जाएगा। हालांकि, टूर्नामेंट्स के लिए बीडब्ल्यूएफ ने अभी कोई गाइडलाइन जारी नहीं की है।

5. बॉक्सिंग के लिए भी जल्द गाइडलाइंस जारी होंगी
इंडियन बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (आईबीएफआई) के सेक्रेटरी जय कोहली ने कहा कि इंटरनेशनल बॉक्सिंग फेडरेशन जल्द नई गाइडलाइंस जारी करेगा। इसको लेकर कमेटी गठित की गई है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Coronavirus/Sports Safety Rules Updates From Cricket, Football and English Premier League vs. La Liga


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2ArpAKL
via IFTTT