1. राजस्थान की सियासत
राजस्थान में कांग्रेस की कलह कठघरे तक जरूर पहुंच गई है, लेकिन दो दिन तक नेताओं के लिए बयानबाजी पर लौटने का पूरा स्कोप रहेगा। दरअसल, पायलट खेमे के 19 विधायकों को स्पीकर सीपी जोशी ने नोटिस भेजा था। इसके खिलाफ बागी विधायक हाईकोर्ट पहुंच गए थे, जहां सुनवाई सोमवार तक टल गई है। हाईकोर्ट ने स्पीकर को विधायकों के बारे में फैसला करने से मंगलवार शाम तक के लिए रोक दिया है। जिक्र बयानों का हो रहा है, तो पायलट की बात कर लेते हैं। वे दो दिन पहले तकइंटरव्यू दे रहे थे, लेकिन अब कोई बड़ा बयान नहीं दे रहे।

लोगों की नजर गहलोत और पायलट पर है, लेकिन चर्चा में दो नाम और हैं। पहला नाम है- पूर्व सीएम वसुंधरा राजे। पिछले आठ दिन से सियासत जोरों पर है, लेकिन वसुंधरा ने चुप्पी साध रखी है। उन पर गहलोत सरकार को बचाने के आरोप लग रहे हैं। भाजपा के 72 में से 45 विधायक वसुंधरा समर्थक बताए जा रहे हैं। स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के चीफ भी वसुंधरा के भरोसेमंद माने जाते हैं।

दूसरा नाम है- गजेंद्र सिंह शेखावत। वे केंद्रीय मंत्री हैं। गहलोत सरकार का दावा है कि विधायकों की खरीद-फरोख्त से जुड़ा जो ऑडियो गुरुवार को लीक हुआ, उसमें एक आवाज गजेंद्र सिंह शेखावत की है। वसुंधरा विरोधी गुट के माने जाने वाले शेखावत इस दावे को खारिज कर रहे हैं।

2. रक्षा मंत्री का लद्दाख दौरा
प्रधानमंत्री मोदी ने 3 जुलाई को लद्दाख का दौरा किया था। ठीक दो हफ्ते बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को लद्दाख पहुंचे। प्रधानमंत्री ने उस दिन विस्तारवाद को खराब बताकर चीन की नीतियों का विरोध किया था। कल जब राजनाथ वहां पहुंचे, तो उन्होंने हाथ में मशीन गन उठाकर देखने के बाद जमीनी हकीकत बयां कर दी। उन्होंने वही बात कही, जो चीन को लेकर लोगों के दिल में है। उन्होंने कहा- सीमा विवाद सुलझाने के लिए बातचीत का दौर चल रहा है, लेकिन गारंटी नहीं दे सकते कि इसका कितना हल निकलेगा।

3. रोशनी नडार बनीं एचसीएल की चेयरपर्सन
अब बात कॉर्पोरेट की। डेढ़ लाख इम्प्लॉइज और सालाना 17 हजार करोड़ रुपए का रेवेन्यू कमाने वाली भारतीय टेक कंपनी एचसीएल में लीडरशिप में बदलाव हुआ है। 75 साल के शिव नाडर चेयरमैन थे। अब उनकी 38 साल की बेटी राेशनी नाडर चेयरपर्सन होंगी। अब तक वे एचसीएल की सीईओ थीं। रोशनी फोर्ब्स की द वर्ल्ड्स 100 मोस्ट पावरफुल वुमन की 2019 की लिस्ट में 54वें नंबर पर थीं। वे देश की सबसे अमीर महिला हैं। 2019 में उनकी वैल्थ 36,800 करोड़ रुपए थी।

4. आज से जुड़ी दो बातें

  • अफ्रीका में क्रिकेट का एक्सपेरिमेंटल फॉर्मेट
    कोरोना के बीच साउथ अफ्रीका में आज से क्रिकेट की वापसी हो रही है और यह वापसी एक्सपेरिमेंटल है। साउथ अफ्रीका के सेंचुरियन पार्क स्टेडियम में थ्री टीम मैच खेला जाएगा। यह सिर्फ 36 ओवर का होगा और इसमें एक साथ 3 टीमें खेलेंगी। हर टीम में 8-8 खिलाड़ी होंगे। एक टीम 6-6 ओवर में दो टीमों के खिलाफ बैटिंग करेगी। 7 विकेट गिरने के बाद 8वां बल्लेबाज अकेले बैटिंग कर सकेगा। डिविलयर्स, डीकॉक, रबाडा और शम्सी जैसे खिलाड़ी मैदान पर नजर आएंगे। भारत में इसे दोपहर 2 बजे से देखा जा सकेगा।
  • राम मंदिर निर्माण की तारीख
    अयोध्या में राम मंदिर निर्माण कब से शुरू होगा, इसकी तारीख पर आज फैसला हाे सकता है। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की आज दोपहर 3 बजे से बैठक है। इसमें यह चर्चा होगी कि कौन-सा दिन मंदिर निर्माण शुरू करने के लिए ठीक है और क्या उस दिन नींव रखने के लिए प्रधानमंत्री आ सकते हैं।

5. आज का दिन कैसा रहेगा?
शनिवार को वज्र नाम का अशुभ योग बन रहा है। इस वजह से मेष, वृष, धनु, कर्क, सिंह, तुला और वृश्चिक राशि वाले परेशान हो सकते हैं। वहीं, मिथुन, कन्या, मकर, कुंभ और मीन राशि वालों के लिए दिन ठीक रहेगा। इस तरह 12 में से 7 राशियों के लिए दिन ठीक नहीं है और 5 राशियों के लिए दिन ठीक है।

6. आखिर में चार खबरें, जिन्हें शायद आप पढ़ना चाहें

  • खजाने का राज
    हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने केरल के पद्मनाभस्वामी मंदिर के प्रबंधन की बागडोर त्रावणकोर राजपरिवार के हाथ में सौंपी है। इस मंदिर के पास करीब एक लाख करोड़ की संपत्ति बताई जाती है। इसके तहखाने में क्या-क्या है, यह राज ही है। इसी तरह विजयनगर साम्राज्य का खजाना भी आज तक रहस्य बना हुआ है। कर्नाटक के हम्पी से लेकर तेलंगाना के हैदराबाद तक के जंगलों में यह खजाना खोजा जा रहा है। पढ़ें: श्रीशैलम् की पहाड़ियों में 2500 टन सोना है...
  • सरकार की 4 गलतियां
    देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 10 लाख के ऊपर पहुंच गया है। ऑक्सफोर्ड के गवर्नमेंट रिस्पॉन्स ट्रैकर के मुताबिक, भारत में जितना सख्त लॉकडाउन लागू किया गया था, उतनी सख्ती दुनिया के किसी देश में नहीं दिखाई गई, लेकिन सरकार की तरफ से 4 गलतियां हुईं। लॉकडाउन का सही इस्तेमाल नहीं हुआ। सरकार को पता नहीं था कि प्रवासी मजदूर सड़कों पर निकल आएंगे। श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से कोरोना के मामले बढ़े। केस बढ़ रहे थे, तब शराब की दुकानें खोल दी गईं। पढ़ें: 6 तरीके, जिनसे कोरोना को कंट्रोल कर सकते थे...
  • शुभ कामों का समय
    सावन के आखिरी 15 दिनों यानी 20 जुलाई से 3 अगस्त तक कई पर्व आ रहे हैं। इस दौरान दुर्लभ योग भी बन रहे हैं। इनमें 7 दिन शुभ मुहूर्त हैं। इस बार 20 साल बाद सावन में सोमवती अमावस्या का शुभ योग बन रहा है। पढ़ें: हरियाली अमावस्या पर 5 ग्रह अपनी-अपनी राशि में रहेंगे...
  • स्कूल कैसे खुल सकते हैं
    अमेरिका, भारत समेत तमाम देशों में स्कूलों को दोबारा खोलने पर विचार चल रहा है। एक्सपर्ट्स की सलाह है कि स्कूलों में कोरोना टेस्ट की सुविधा होनी चाहिए। क्लास रूम में लगातार फ्रेश एयर आनी चाहिए। पढ़ें:दुनिया के जिन देशों में स्कूल शुरू हुए, वहां क्या तैयारियां की गईं...


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
वसुंधरा के भाजपा में हमेशा से कड़े तेवर रहे हैं। बताया जाता है कि दो साल पहले मोदी-शाह गजेंद्र सिंह शेखावत को राजस्थान भाजपा का अध्यक्ष बनाना चाहते थे, लेकिन वसुंधरा अड़ गईं और मामला अटका रहा।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2CfiObX
via IFTTT