1. नजर आया, हाथ न लगा
आगे अपराधी, पीछे सिपाही। यूपी में ऐसा ही हाे रहा है। एक गैंगस्टर गोलियां बरसाकर आठ पुलिसवालों की जान लेने के बाद भाग निकलता है और छह दिन तक पुलिस उसे नहीं पकड़ पाती। वह पुलिस से आगे है... पुलिस उसके पीछे है।

...और ऐसा भी नहीं है कि उसका पता नहीं चल रहा। गैंगस्टर विकास दुबे यूपी से निकलकर फरीदाबाद पहुंच गया। होटल में कमरा लेने गया। अंकुर नाम बताकर वहां रुका। हरियाणा पुलिस और यूपी एसटीएफ वहां पहुंचती, इससे पहले निकल गया। सीसीटीवी में बस उसकी एक झलक दिखाई दी, जो दिनभर चैनलों, सोशल मीडिया पर चलती रही। फुटेज में वह सड़क पर आराम से खड़ा दिखता है। एक-दो ऑटो वालों को हाथ दिखाने के बाद तीसरे ऑटो में बैठकर निकल जाता है।

थोड़ा और बताते चलें। ...चौंकाने वाली तीन बातें।

पहली- इस तरह की खबरें आईं कि एक बार विकास पुलिस के ठीक सामने था, लेकिन पुलिस उसे नहीं पहचान सकी। सच है या नहीं, यह विकास या पुलिस ही बता सकती है।

दूसरी- विकास दो दिन से फरीदाबाद में एक रिश्तेदार के घर में था, यहां भी पुलिस देर से पहुंची। इससे भी पहले वह दो दिन कानपुर के शिवली में था।

तीसरी- विकास फरीदाबाद मेंजिस रिश्तेदार के घर रुका, वह भी कोई कम नहीं था। उसके घर से चार पिस्तौल मिलीं। इनमें से दो यूपी पुलिस से लूटी गई थीं।

ऐसा भी नहीं है कि पुलिस की हर एक्शन में देरी हो रही है। विकास दुबे के सबसे भरोसेमंद शार्प शूटर गुर्गे को यूपी पुलिस ने बुधवार को ढेर कर दिया। इसका नाम था अमर दुबे। पुलिस कह रही है, ‘हम ऐसी कार्रवाई करेंगे कि अपराधियों को पछतावा होगा।’

2. नेशनलिज्म, सेक्युलरिज्म और सिटीजनशिप को पढ़ने की जरूरत नहीं
सीबीएसई के 9वीं से 12वीं के सिलेबस में हुई 30 फीसदी की कटौती की परतें खुल रही हैं। सीबीएसई ने एक्सपर्ट्स की सिफारिशों और सरकार को मिले डेढ़ हजार से ज्यादा सुझावों के आधार पर ये कटौती है। ठीक भी है। जिसका काम उसी को साजे, लेकिन फिर भी कटौती दिलचस्प है। जैसे- 11वीं के सिलेबस से नेशनलिज्म, सेक्युलरिज्म और सिटीजनशिप हटा लिया गया है।

ये तीनों वही शब्द हैं, जो पिछले 6 साल से सबसे ज्यादा चर्चा में हैं। तीनों टॉपिक्स के आगे बेदर्दी से लिखा गया है- कम्प्लीटली डिलीटेड। खैर, आगे चलते हैं। अंग्रेजी के सिलेबस से लेटर टू एडिटर और नौकरी के लिए रिज्यूम के साथ अप्लाई करें जैसे टॉपिक्स हटा लिए गए हैं। सीबीएसई को इस पूरे मामले पर जवाब भी देना पड़ा। बोर्ड ने कहा- ये कटौती तो सिर्फ एक बार के लिए है, हमेशा के लिए थोड़ी है।

3. ड्रॉपलेट्स से ज्यादा खतरनाक एयरोसोल
कोरोना हवा से फैलता है या नहीं, यह बहस बुधवार को और तेज हो गई। दरअसल 32 देशों के 239 वैज्ञानिकों ने कहा था- कोरोना हवा से भी फैल सकता है। तब डब्ल्यूएचओ ने इसे खारिज कर यह कहा था- ये खतरा सिर्फ मेडिकल फैसिलिटीज जैसे अस्पताल, क्लिनिक या डिस्पेंसरी में ही है। अब डब्ल्यूएचओ का कहना है कि सभी जगहों पर एयरोसोल ट्रांसमिशन के खतरे से इनकार नहीं किया जा सकता।

अब समझते चलें कि एयरोसोल किसे कहते हैं। एक्सपर्ट्स बताते हैं कि इनमें और ड्रॉपलेट्स में ज्यादा फर्क नहीं है। जब खांसते या छींकते हैं तो ड्रॉपलेट्स निकलती हैं। जब सांस छोड़ते हैं, बोलते हैं या गाना गाते हैं तो एयरोसोल निकलते हैं। ड्रॉपलेट्स अगर पांच माइक्रोन से कम आकार के हैं तो एयरोसोल कहलाते हैं।

एयरोसोल बंद कमरे में भी कुछ दूर तक सफर कर सकते हैं। इनमें मौजूद वायरस हवा में तीन घंटों तक जिंदा रह सकता है। इसलिए ये ड्रॉपलेट्स से ज्यादा खतरनाक हो सकते हैं।

4. आज के दो इवेंट्स

आज मोदी बोलेंगे

मोदी का आज दोपहर डेढ़ बजे भाषण है। मौका है इंडिया ग्लोबल वीक 2020 का। यह इवेंट ब्रिटेन में आज से शुरू हो रहा है। इसमें मोदी भारत में ट्रेड और फॉरेन इन्वेस्टमेंट्स पर बात कर सकते हैं। तीन दिन चलने वाली इस समिट में विदेश मंत्री एस जयशंकर, रेल मंत्री पीयूष गोयल, सिविल एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह पुरी, आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद और स्किल डेवलपमेंट मिनिस्टर महेंद्र नाथ पांडेय भी शामिल होंगे। ये सभी दिल्ली में ही बैठे-बैठे हिस्सा लेंगे, क्योंकि ये समिट वर्चुअल है।

बंगाल में आज से टोटल लॉकडाउन
बंगाल आज शाम 5 बजे से टोटल लॉकडाउन लगाने जा रहा है, लेकिन रुकिए। यह पूरे राज्य के लिए नहीं है। यह कंटेनमेंट जोन और बफर जोन के लिए है। कंटेनमेंट जोन यानी रेड जोन में आने वाले ऐसे इलाके जहां संक्रमण के मामले सबसे ज्यादा हैं। बफर जोन यानी कंटेनमेंट जोन के आसपास का कुछ किलोमीटर का इलाका।

5. आज का दिन कैसा रहेगा?
बात राशिफल की। आज कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु और मीन राशि वालों को पूरे दिन संभलकर रहना होगा। जॉब-बिजनेस और लेन-देन में सावधानी रखनी होगी। मेष, वृष, कर्क और कुंभ राशि वाले लोगों के लिए दिन शुभ रहेगा। मिथुन, सिंह और मकर राशि वाले लोगों के लिए दिन मिला-जुला रहेगा।

6. चलते-चलते तीन खबरें, शायद आप पढ़ना चाहें

  • 1962 से अब तक भारत-चीन का सफर
    दोनों देशों में 1962 में जंग हुई थी। तब चीन की जीडीपी हमसे सिर्फ 12% ज्यादा थी। आज भारत से 5 गुना बड़ी इकोनॉमी चीन की है। इकोनॉमी खुलने के बाद भारत के मुकाबले चीन ज्यादा आगे बढ़ गया। चीन की इकोनॉमी 39 गुना बढ़ी, जबकि भारत की 9 गुना बढ़ी। चीन की तुलना में दूसरे देशों से खरीद पर भारत ज्यादा निर्भर...
  • यूपी के बड़े माफिया
    हम यूपी के कुछ ऐसे माफिया की कहानी बता रहे हैं, जिनका न सिर्फ खौफ है, बल्कि सत्ता के गलियारों में भी रसूख है। एक नाम है अतीक अहमद। 10 जजों ने उसके केस की सुनवाई से खुद को अलग कर लिया था। 11वें जज ने सुनवाई की और अतीक को जमानत मिल गई। बाकी 4 बड़े माफिया की कहानी भी ऐसी ही है...
  • इंस्टाग्राम का नया फीचर
    इंस्टाग्राम ने 'पिन कमेंट फीचर' को अब सभी के लिए रोल आउट कर दिया है। इसकी मई से ही टेस्टिंग चल रही थी। यूजर्स अब अपने अकाउंट पर निगेटिव कमेंट्स एक साथ डिलीट कर सकेंगे। ट्रोल करने वाले यूजर्स को ब्लॉक भी कर पाएंगे। एक बार में 25 ट्रोल कमेंट्स को डिलीट कर सकेंगे...


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
News Brief/Dainik Bhaskar Morning Latest [Updates]; UP Gangster Vikas Dubey Story, CBSE Syllabus 2020-21 and Aaj Ka Rashifal (Horoscope Today)


from Dainik Bhaskar /national/news/news-brief-dainik-bhaskar-updates-up-gangster-vikas-dubey-story-cbse-syllabus-2020-21-and-aaj-ka-rashifal-horoscope-today-127493851.html
via IFTTT