1. सबसे पहले, बात राजस्थान की

राजस्थान की सियासत का ऊंट किस करवट बैठेगा, इसका अनुमान लगाना फिलहाल बहुत मुश्किल हो गया है। लॉकडाउन की यादें पूरी तरह से दिमाग से हटी नहीं है, लिहाजा वेब सीरीज की खुमारी अब भी दिमाग पर हावी है। और तो और, राजस्थान की सियासत में रोज-रोज आ रहे दिलचस्प मोड़ किसी भी फिल्म प्रोड्यूसर को नई पटकथा लिखने को प्रेरित कर सकते हैं। पहले सुप्रीम कोर्ट ने हड़काया और स्पष्ट किया विरोध जताना हर एक की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का हिस्सा है।

इसके बाद राजस्थान हाईकोर्ट ने अपनी ही पार्टी से नाराज चल रहे सचिन पायलट को राहत की सांस लेने का मौका भी दे दिया। यानी स्पीकर चाहकर भी पायलट और उनके 18 साथी विधायकों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर सकते। इससे इस सियासी ड्रामे में राज्यपाल एक अहम किरदार बनकर उभरे हैं। विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और राजभवन में टकराव भी शुरू हो गया है। लिहाजा, आगे क्या होगा यह बेहद दिलचस्प हो गया है।

विस्तार से पढ़ें

2. कोरोना ने पार कर ही लिया 13 का आंकड़ा

भारत में 13 का आंकड़ा बहुत खास है। इससे हमारे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की यादें जुड़ी हैं। उन्होंने देश की सरकार को पहले 13 दिन, और फिर 13 महीने जो चलाई थी। खैर, इस बार 13 का आंकड़ा शुभ नहीं बल्कि अशुभ बनकर आया है। ठीक पश्चिमी देशों की तरह, जहां 13 शुभ नहीं माना जाता। 13 तारीख को पड़ने वाले शुक्रवार कितना अशुभ माना जाता है, यह किसी को बताने की जरूरत नहीं। वहां तो कई इमारतों में 13वीं मंजिल तक नहीं रखी जाती।

यहां, बात कोरोना वायरस की है। देश में संक्रमित मरीजों का स्कोर 13 लाख को पार कर चुका है। हर 10 लाख की आबादी पर 947 संक्रमित मिल रहे हैं। 30 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी है। मध्यप्रदेश के बाद उत्तरप्रदेश के एक मंत्री भी कोरोना की चपेट में आ गए हैं।

विस्तार से पढ़ें

3. अवमानना मामले में भावनाओं का उबाल

भावनाएं हमेशा अच्छी होंगी, यह सही नहीं है। पूर्व कानून मंत्री और सीनियर एडवोकेट शांति भूषण ने भी भावनाओं में आकर अपने बेटे और सीनियर एडवोकेट प्रशांत भूषण के खिलाफ अवमानना कार्यवाही में पार्टी बनने के लिए याचिका लगाई थी।

मामला 11 साल पुराना है। 2009 में प्रशांत भूषण ने एक इंटरव्यू में सुप्रीम कोर्ट के जजों पर टिप्पणी की थी। कोर्ट ने खुद इस पर विचार किया था। जब उनके पिता की याचिका पर सुनवाई की बारी आई तो सुप्रीम कोर्ट ने कह दिया कि आप भावनात्मक बात कर रहे हैं, कानूनी नहीं। प्यार और लगाव से पनपे तर्क कानूनन जायज नहीं। आप बुजुर्ग हैं और ऐसे में आपको दलीलें नहीं रखनी चाहिए।
खैर, उनकी अपील खारिज हो गई। यह भी साफ हो गया कि मामला और भी लंबा खिंचने वाला है। शायद अन्य मामलों की तरह...

विस्तार से पढ़ें

4. गैंगस्टर की पत्नी बोली मैं बच्चों को काबिल बनाऊंगी

कहानी फिल्मी है। कुछ ही साल पहले एक फिल्म आई थी- वॉर। दो चर्चित एक्टर थे फिल्म में- रितिक रोशन और टाइगर श्राफ। खूब चली थी। कहानी ऐसी ही थी। टाइगर श्राफ के पिता अपराधी होते हैं और रितिक रोशन उन्हें एनकाउंटर में मार गिराता है। लेकिन, टाइगर की मां उसे देशभक्त बनाती है और बाद में वह देश के लिए लड़ते हुए शहीद हो जाता है।

खैर, फिल्मी बातें तो चलती रहेंगी लेकिन गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी ऋचा ने भास्कर को दिए इंटरव्यू में ऐसा ही कुछ वचन दिया है। वह कह रही हैं कि मैं ताउम्र समाज से माफी मांगती रहूंगी। मुख्यमंत्री चाहेंगे तो मैं अपने बच्चों को जरूर काबिल बनाऊंगी। भविष्य में क्या होगा, यह न तो योगी बता सकते हैं न कोई और...

विस्तार से पढ़ें

5. आज नाग पंचमी है

सावन महीने के शुक्लपक्ष की पांचवी तिथि यानी आज नाग पंचमी है। आज नाग देवता के पूजन की परंपरा है। नाग पंचमी से जुड़ी एक कथा के अनुसार माना जाता है कि इस दिन स्त्रियां सर्प को भाई मानकर उसकी पूजा करती हैं और भाई से अपने कुटुम्बजनों की रक्षा का आशीर्वाद मांगती हैं। ज्योतिषीय विद्वानों के अनुसार नागपंचमी पर नाग देवताओं की पूजा करने से कुंडली के राहु और केतु से संबंधित दोष दूर हो सकते हैं।

विस्तार से पढ़ें

6. पैसा रुका है तो 6 राशि वाले लोगों को आज वह मिल सकता है

वैसे, महीने का आखिर चल रहा है। ऐसे में यदि रुका हुआ पैसा मिल जाए तो लॉटरी लगने जैसा अनुभव होता है। ऐसा ही कुछ आज होने वाला है मेष, कर्क, सिंह, कन्या, तुला और वृश्चिक राशि वाले लोगों के साथ। एस्ट्रोलॉजर डॉ. अजय भाम्बी के अनुसार 12 में से 6 राशि वाले लोगों के लिए दिन अच्छा रहेगा। 4 राशियों के लिए दिन मिला-जुला रहेगा। इनके अलावा 2 राशियों के लिए दिन ठीक नहीं है।

विस्तार से पढ़ें

आपके लिए चार और खबरें...

1. नागपुर में आज से जनता कर्फ्यू

केंद्र सरकार ने अनलॉक की प्रक्रिया तेज कर दी है। लेकिन बढ़ते केस स्थानीय स्तर पर लॉकडाउन और जनता कर्फ्यू के लिए प्रेरित कर रहे हैं। महाराष्ट्र के नागपुर में आज से दो दिन के लिए जनता कर्फ्यू रहेगा। मध्यप्रदेश के ज्यादातर शहरों में शनिवार-रविवार को पूरी तरह लॉकडाउन लगा रहेगा।

2. बाबरी विध्वंस केस में आडवाणी बोले- मैं निर्दोष
सुनने में बहुत अजीब लगता है। लेकिन, सच यही है। बाबरी विध्वंस केस में सीबीआई कोर्ट के सामने भाजपा के दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी ने कहा कि मुझे तो कांग्रेस की सरकार ने फंसाया था। मैं निर्दोष हूं। ये वहीं आडवाणी हैं जिन्होंने राम मंदिर आंदोलन के लिए रथयात्रा निकालीं। देशभर में राम मंदिर आंदोलन का माहौल बनाया। दो सांसदों वाली अपनी पार्टी को आज सत्ता तक पहुंचाने तक की नींव रखी। खैर, रामजी सबका भला करेंगे!

विस्तार से पढ़ें

3. आईपीएल की तारीख आ गई

हमारे देश को यदि दो चीजें आपस में बांधे रखती है तो वह है क्रिकेट और बॉलीवुड। और जब बात क्रिकेट की आती है तो आईपीएल का जिक्र तो बनता ही है। कोरोनावायरस के लॉकडाउन की वजह से टल रहे आईपीएल की तारीखें तय हो गई हैं।

विस्तार से पढ़ें

4. थोड़ा-सा बदलाव किया और हिट हो गए विराट

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बताया कि 2014 में इंग्लैंड के दौरे में उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा था। तब सचिन तेंदुलकर ने सुझाव दिया कि तेज गेंदबाजों के खिलाफ 'फॉरवर्ड प्रेस' (आगे झुककर खेलें) और कोच रवि शास्त्री ने कहा कि क्रीज के बाहर खड़े होना चाहिए। इन्हीं दोनों सलाह को माना और मेरी बल्लेबाजी निखरती चली गई।

विस्तार से पढ़ें



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Morning Brief news, Sachin Pilot, Ashok Gehlot, Virat Kohli, IPL 2020, IPL in UAE, Lalkrishna Advani, Vikas Dubey Encounter case


from Dainik Bhaskar /national/news/court-decision-increases-suspense-in-rajasthan-political-drama-127549832.html
via IFTTT