पायलट की पहली गुगली को गहलोत फ्रंटफुट पर खेल गए; आज CBSE 10वीं के नतीजे आएंगे और आईआईटी की कोरोना टेस्ट किट लॉन्च होगी

1. सरकार पर संकट के 4 दिन बीते
राजस्थान में कांग्रेस के लिए सियासत का मौसम बिगड़ा हुआ है। मंगलवार को सरकार पर चल रहे संकट का चौथा दिन था। 72 घंटे की कोशिशों के बाद आखिरकार सीएम अशोक गहलोत को कांग्रेस से संजीवनी मिल गई। पार्टी ने उन्हें मजबूत करते हुए सचिन पायलट को डिप्टी सीएम और प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया। इस तरह पायलट की पहली गुगली को गहलोत फ्रंटफुट पर खेल गए। पायलट के अगले दांव पर सबकी नजर है, क्योंकि विकेट के पीछे भाजपा खड़ी है।

इस बीच, ‘सोनिया, राहुल और प्रियंका गांधी वाली कांग्रेस’ के नेताओं ने कहा कि हमारी पार्टी ‘व्यक्तियों’ से नहीं चलती। इसलिए पायलट पर कार्रवाई हुई है। पायलट ने इसके बाद अपने ट्विटर हैंडल से कांग्रेस का नाम हटा दिया और लिखा- ‘सत्य को परेशान किया जा सकता है, पराजित नहीं।’

कांग्रेस ने भी जवाब दिया। कहा- ‘सत्य तो अभी पराजित ही नहीं हुआ।’ ...ये समझ नहीं आया कि सत्य पर दावा आखिर किसका है? उधर, सत्य-असत्य को अलग रखते हुए गहलोत ने पायलट खेमे की तुलना ‘आ बैल मुझे मार’ वाली कहावत से कर दी।

तीन बातें, जो हमारे जर्नलिस्ट्स ने बताईं...

  • पहली- सोनिया, राहुल, प्रियंका, चिदंबरम, वेणुगोपाल और अहमद पटेल ने सचिन पायलट को मनाने की कोशिश की, लेकिन वे नहीं माने।
  • दूसरी- पायलट को सीएम पद से कम कुछ मंजूर नहीं था। वे चाहते थे कि एसओजी से मिला नोटिस भी वापस लिया जाए। अब वे नई पार्टी बना सकते हैं। ऐसे में भाजपा उन्हें समर्थन दे सकती है।
  • तीसरी- गहलोत ने अभी ट्रम्प कार्ड खेला नहीं है। वे अपनी टीम में आठ नए मंत्रियों को शामिल कर सकते हैं। नए चेहरों को जगह मिली, तो वे विधायकों को जोड़कर रखने में कामयाब रहेंगे।

पढ़ें: सरकार बच गई, तो गहलोत का पार्टी में कद बढ़ेगा

2. अयोध्या किसकी!
बात विदेश की। पड़ोसी देश नेपाल के प्रधानमंत्री हैं केपी शर्मा ओली। इन दिनों भारत विरोधी हो गए हैं। पहले उन्होंने कहा था कि नेपाल के कुछ हिस्सों पर भारत ने कब्जा कर रखा है। गुस्सा नहीं थमा, तो अब कह दिया कि भगवान राम नेपाल के थे। उनके वक्त की अयोध्या भारत में नहीं, बल्कि बीरगंज में थी।

दरअसल, यह बयान देने में ओली लेट हो गए। उन्होंने पहले ही ऐसा कह दिया होता, तो शायद देश में चले अयोध्या विवाद के मुकदमे में उन्हें भी कोई मुद्दई बना देता। खैर, इस बयान पर उनके ही देश के लोगों ने चुटकियां लीं।

नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री बाबू राम भट्टाराई कहते हैं- ‘ये आदि कवि ओली हैं, जो कलयुग की नई रामायण सुना रहे हैं।’ ओली के ही पूर्व मीडिया सलाहकार कुंदन आर्यल ने कहा- ‘शायद ओली भारत के न्यूज चैनलों से कॉम्पीटिशन कर रहे हैं।’ नेपाल के पूर्व डिप्टी पीएम कमल थापा बोले- ‘ओली भारत-नेपाल के रिश्तों को और खराब करना चाह रहे हैं।’

पढ़ें: ट्विटर यूजर्स ने कहा- ओली अब कहेंगे कि न्यूयॉर्क अमेरिका नहीं, नेपाल में है

3. बड़ी खबरों पर आगे बात करने से पहले आज से जुड़ी दो बातें

  • सीबीएसई 10वीं का रिजल्ट आज दोपहर तक आ जाएगा। मंगलवार को भी रिजल्ट आने की अटकलें थीं, लेकिन आया नहीं। इस बार 18 लाख स्टूडेंट्स ने 10वीं की एग्जाम दी थी।रिजल्ट cbseresults.nic.in पर देखा जा सकता है।
  • आईआईटी दिल्ली की लो-कॉस्ट कोरोना टेस्ट किट आज लॉन्च होगी। आईआईटी दिल्ली देश का ऐसा पहला एकेडमिक इंस्टिट्यूट है, जिसने कोरोना की टेस्टिंग मैथड डेवलप की है। उसने इसका नॉन-एक्स्क्लूसिव ओपन लाइसेंस कंपनियों को दिया है। आईआईटी ने एक किट की कीमत 500 रुपए रखी है। देखना होगा कि कंपनियां मुनाफा कमाने की कोशिश में इसे किस कीमत पर बेचती हैं।

4. अब गूगल भी जियो में इन्वेस्ट करेगी
रिलायंस जियो में टी-20 स्टाइल में इन्वेस्टमेंट आ रहा है। अब उसकी गूगल से बातचीत चल रही है। गूगल जियो में करीब 30 हजार करोड़ रुपए का इन्वेस्टमेंट कर सकती है। ऐसा हुआ तो यह जियो में 14वां इन्वेस्टमेंट होगा। रकम के लिहाज से यह कंपनी में दूसरा बड़ा निवेश होगा।

इससे पहले फेसबुक ने 43 हजार करोड़ रुपए इन्वेस्ट कर जियो में 9.99% की हिस्सेदारी खरीदी थी। पिछले 12 हफ्ते में रिलायंस जियो को 13 निवेश मिल चुके हैं। जियो ने 25.24% हिस्सेदारी बेचकर 1.18 लाख करोड़ रुपए जुटाए हैं।

5. पिछले वर्ल्ड कप फाइनल के मैच विनर के बारे में एक खुलासा
2019 के वनडे वर्ल्ड कप के फाइनल को एक साल पूरे हो गए। इसी के साथ एक खुलासा भी हुआ है। वर्ल्ड कप जीतने वाली इंग्लैंड टीम के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने फाइनल में नाबाद 84 रन की पारी खेली थी। सुपर ओवर में भी 8 रन बनाए थे। उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था।

इंग्लैंड ज्यादा बाउंड्री लगाने की वजह से वर्ल्ड चैम्पियन बना था। फाइनल में 2 घंटे 27 मिनट तक बैटिंग करने के बाद स्टोक्स इतने तनाव में आ चुके थे कि ड्रेसिंग रूम में लौटकर उन्होंने बाथरूम में सिगरेट जला ली थी।

पढ़ें: पहली बार वर्ल्ड कप फाइनल और सुपर ओवर टाई हुआ था

6. आज का दिन कैसा रहेगा?
एस्ट्रोलॉजी कह रही है कि बुधवार को दो अशुभ योग बन रहे हैं। इनके नाम हैं शूल और काण। अगर नाम पढ़कर उलझन महसूस कर रहे हैं, तो काम की बात जान लीजिए। बुधवार को मेष, मिथुन, कर्क, कन्या, तुला, मकर, कुंभ और मीन राशि वालों को जॉब और बिजनेस में संभलकर रहना होगा। वृष, सिंह, वृश्चिक और धनु राशि वालों के लिए दिन अच्छा रहेगा।

पढ़ें: सभी 12 राशि वालों के लिए कैसा रहेगा दिन?

एस्ट्रोलॉजी के हिसाब से आठ राशि वालों के लिए दिन चुनौतीपूर्ण है, लेकिन टैराकार्ड्स के हिसाब से नौ राशियों के लिए दिन अच्छा रहेगा। इनमें वृष, मिथुन, तुला और मीन शामिल है।

पढ़ें: सभी राशियों के लिए क्या कहते हैं टैरोकार्ड्स?



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
फोटो 26 मार्च 2019 की है। तब जयपुर में कांग्रेस की रैली हुई थी। राहुल गांधी पार्टी अध्यक्ष थे। सीएम होने के नाते अशोक गहलोत और बतौर डिप्टी सीएम सचिन पायलट इस रैली में मौजूद थे। राहुल एक साल पहले ही पार्टी अध्यक्ष का पद छोड़ चुके हैं। मंगलवार को पायलट से डिप्टी सीएम और प्रदेश अध्यक्ष पद छीना जा चुका है।


from Dainik Bhaskar /national/news/news-brief-dainik-bhaskar-morning-latest-updates-aaj-ka-rashifal-gehlot-vs-pilot-rajasthan-updates-cbse-result-127514472.html
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments