ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) ने ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन के भारत में दूसरे और तीसरे फेज के ट्रायल के लिए सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को मंजूरी दे दी है। एक सीनियर अफसर ने बताया कि सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी (एसईसी) ने सभी तरह के आकलन के बाद यह मंजूरी दी। ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन के 5 जगहों पर चल रहे ट्रायल के पहले फेज में सकारात्मक नतीजे सामने आए हैं। इससे लोगों में एंटी बॉडीज में इजाफा देखा गया है।

इस बीच, देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा रविवार को 18 लाख के पार हो गया। अब तक देश में 18 लाख 04 हजार 702 लोग संक्रमित हो चुके हैं। लगातार 6वीं बार एक लाख केस केवल दो दिन में सामने आए। ये covid19india.org के मुताबिक हैं।

कोरोना अपडेट्स

  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती किया गया है।
  • कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा की बेटी भी संक्रमित हो गई हैं। उनकी रिपोर्ट आज सुबह पॉजिटिव आई। उन्हें मणिपाल हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है। मुख्यमंत्री येदियुरप्पा की रिपोर्ट रविवार शाम को पॉजिटिव आई थी।

5 राज्यों का हाल
मध्य प्रदेश: भोपाल में सोमवार को रक्षाबंधन पर किसी भी तरह की छूट नहीं दी जाएगी। लॉकडाउन जारी रहेगा। ऐसा पहली बार हो रहा है, जब त्योहार पर सभी दुकानें बंद रहेंगी और लोग घरों में कैद रहेंगे। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने कहा है कि लोग घर पर ही रहकर त्योहार मनाएं। बाहर न निकलें। कहीं भी जाने की अनुमति नहीं दी गई है।

भोपाल में पॉजिटिविटी दर दूसरे शहरों की तुलना में सबसे ज्यादा है। यह 13% है। जबकि बड़वानी में यह 10.2%, इंदौर में 8.3% और जबलपुर में 7.7% है। जबकि मप्र में यह दर 2.3% है। देश में ये दर 8.8 प्रतिशत है। पहले देश के 10 फीसदी केस मप्र से होते थे। उधर, स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि तीन शहरों इंदौर, भोपाल और उज्जैन में सीरो सर्वे (रैपिड एंटीजन टेस्ट) शुरू कर रहे हैं। इससे पता चलेगा कि एंटीबॉडी डेवलप होने की दर क्या है और किस तरह डेवलप होती है।

राजस्थान : राज्य में लगातार 9वें दिन एक हजार से ज्यादा रोगी मिले। 12 लोगों की मौत हुई। इनमें 5 जयपुर से थे। इसके अलावा, अजमेर में 3, अलवर और नागौर में 2-2 रोगियों ने दम तोड़ा।
उधर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर मांग की है कि कोरोना पर चर्चा के लिए सभी मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस बुलाएं। उन्होंने कहा कि पीएम ने आखिरी बार 17 जून को मुख्यमंत्रियों से वीसी की थी, तब से अब तक लॉकडाउन के कारण काफी बदलाव आ चुका है।

बिहार: राज्य से कोरोना को लेकर अच्छी खबर आ रही है। यहां पिछले 6 दिन में जांच की संख्या दोगुनी 16275 से बढ़कर 35619 हो गई। वहीं मरीजों की संक्रमण दर आधी 14.53% से घटकर 7.75% हो गई। विशेषज्ञों के मुताबिक, संक्रमण दर का गिरना अच्छा संकेत है। रविवार को राज्य में 19 लोगों की मौत हो गई। अब तक 6 लाख 12 हजार 412 सैंपल की जांच हो चुकी है।

निजी पैथ लैब 28 सौ रुपए में घर से कोरोना जांच के लिए सैंपल लेंगे। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने बताया कि लैब स्टाफ को सैंपल लेने के लिए पीपीई किट पहनकर ही जाना होगा। उधर, राज्य सरकार ने कोरोना वॉरियर्स यानी स्वास्थ्यकर्मियों को प्रोत्साहन राशि के भुगतान के लिए 252 करोड़ रविवार को जारी कर दिए।

महाराष्ट्र: राज्य में कोरोना से 9 हजार 566 पुलिसकर्मी संक्रमित हो चुके हैं। अच्छी बात यह है कि 7 हजार 534 स्वस्थ्य हो चुके हैं। 1929 अभी बीमार हैं, जबकि 103 पुलिसकर्मियों की जान जा चुकी है। मराठवाड़ा क्षेत्र के आठ जिलों में पिछले 24 घंटों के दौरान 863 मामले मिले और 23 लोगों की मौत हो गई।

राज्य में जुलाई के महीने में कोरोना की टेस्टिंग में लगभग 103 पर्सेंट की बढ़ोतरी हुई। मेडिकल एजुकेशन और ड्रग्स डिपार्टमेंट के जारी आंकड़ों के अनुसार जुलाई की शुरुआत में 9.9 लाख कोरोना टेस्‍ट हुए थे जोकि 31 जुलाई तक 21.3 लाख पहुंच गए थे।

उत्तर प्रदेश: राज्य में एक जून को लॉकडाउन खत्म होते ही कोरोना की स्पीड अनलॉक हो गई। एक जून को राज्य में महज 8362 मरीज थे। लेकिन, अब यह संख्या 89711 पहुंच गई है। जून-जुलाई में 11 गुना मरीज बढ़े हैं।

रविवार को मंत्री कमल रानी वरुण की लखनऊ के पीजीआई में मौत हो गई। जबकि, चार और कैबिनेट मंत्री कोरोना की चपेट में आए हैं। कमल रानी शाम को अंतिम संस्कार कर दिया गया। परिवार के सदस्यों और परिजन को उनके शव के पास नहीं जाने दिया गया। यूपी के जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्हें पीजीआई में भर्ती कराया गया है। इसके पहले भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने खुद को क्वारैंटाइन कर लिया है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
यह फोटो दिल्ली की है। राजधानी में अब तक 10 लाख 63 हजार 669 लोगों का टेस्ट किया जा चुका है। सरकार की रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 24 घंटे में 4 हजार 289 लोगों की आरटीपीसीआर और 8 हजार 441 लोगों की रैपिड एंटीजन टेस्ट से जांच की गई।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2EKhOgI
via IFTTT