बहन ने भाई की कलाई पर बांधा प्यार; सावन का आखिरी सोमवार: उज्जैन में निकली भगवान की पांचवीं सवारी

कोविड-19 का प्रकोप भी सोमवार को बहन-भाइयों के त्योहार रक्षाबंधन में रुकावट नहीं बन सका। देशभर में कुछ जरूरी सावधानियों का इस्तेमाल कर बहनों ने अपने भाइयों की कलाई पर राखी बांध स्वयं की रक्षा करने का वचन लिया। फोटो मध्यप्रदेश के खरगोन की है। शहर के वल्लभ नगर में अनमोल पाटीदार ने अपने भाई प्रयाग को राखी का प्यार बांधा।
भाई क्वारेंटाइन, बहन ने यूं निभाई रस्म

रक्षाबंधन का त्योहार ऐसा भी मनाना पड़ेगा, ये इस बहन ने कभी सोचा भी नहीं होगा। इंदौर के परदेशीपुरा में रहने वाले अपने भाई को 38 साल से उनकी छोटी बहन राखी बांधती आ रही हैं, लेकिन कोरोना महामारी के कारण इस बार वे अपने भाई की कलाई पर राखी नहीं बांध पाईं। दरअसल इनके पिता और बुआ की रिपोर्ट 23 जुलाई को पॉजिटिव आई थी। तब से वे दोनों तो अस्पताल में हैं, घर सील है और परिवार के बाकी सदस्य होम क्वारेंटाइन हैं।

भगवान की कलाई में बांधी राखी

महिला सुंदरकांड सभा, चंडीगढ़ द्वारा रक्षाबंधन के उपलक्ष्य पर सेक्टर-40 हनुमंत धाम मंदिर में 32 फुट ऊंची पंचमुखी हनुमानजी की प्रतिमा पर सवा सात फुट की राखी हनुमानजी की कलाई में बांधी गई।

अलग-अलग इलाकों में जाती है गाड़ी

ऐसे समय में जब कई लोग कोरोनावायरस के डर से शॉपिंग के लिए शोरूम आने से बच रहे हैं, पुणे में एक फैशन ब्रांड ने शोरूम को ही लोगों तक पहुंचाने की ठान ली है। कंपनी ने स्टोर ऑनव्हील्स शुरू किया है। यह शहर के अलग-अलग इलाकों में जाकर खड़ा होता है, जहां लोग खरीदारी कर सकते हैं।

सावन की पांचवीं सवारी निकली

रक्षाबंधन पर सबसे पहले महाकालेश्वर को राखी बांधी गई। तड़के 4.30 बजे होने वाली भस्मआरती में पुजारी परिवारों द्वारा बनाई गईं राखियां भगवान को अर्पित की गई। परंपरा अनुसार रक्षाबंधन पर जिस पुजारी परिवार द्वारा भस्मआरती की जाती है, उस परिवार की महिलाएं भगवान को सबसे पहले राखी बांधती हैं। सोमवार को भस्मआरती श्रीकृष्ण पुजारी व महेश शर्मा उस्ताद पुजारी ने संपन्न कराई। श्रावण का आखिरी सोमवार होने से दिनभर ऑनलाइन परमिशन लेकर आए श्रद्धालुओं ने दर्शन किए। शाम को महाकाल राजा की पांचवीं सवारी निकली।

चुनरी लहराते हुए लगाए जयकारे

उज्जैन में महाकालेश्वर की सवारी के पूजन के दौरान मंदिर समिति के कर्मचारी नाव से 71 फीट लंबी चुनरी के सिरे को लेकर दत्त अखाड़ा घाट की ओर ले गए। दोनों किनारों के बीच चुनरी लहराते ही जयकारे लगे।

मजदूरों ने मांग 20 हजार रु. तो खुद ही खोद दिया कुआं

महाराष्ट्र में बीड जिले के एक परिवार ने लॉकडाउन के बीच 25 दिनों में घर के आंगन में 32 फीट गहरा और 3 फीट चौड़ा कुआं खोद डाला। इससे गांव के 35 परिवारों को भरपूर पानी मिलने लगा है। बीड के दत्त मंदिर इलाके में रहने वाले नागनाथ ने बताया कि लॉकडाउन के कारण काम धंधा बंद हो गया है।

इलाके में पानी की किल्लत भी थी। घर में कुआं खोदने के लिए मजदूरों से बात की तो उन्होंने 25-30 हजार रुपए की मांग की। तब हमने खुद कुआं खोदने की ठान ली। इसके बाद मैंने अपनी पत्नी और दो बेटों के साथ हर दिन दो-दो घंटे कुआं खोदना शुरू किया और 25वें दिन जमीन से साफ पानी निकलने लगा।

पुलिस की कार्यप्रणाली के खिलाफ अनशन

राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले के में भिरानी में पुलिस की कार्यप्रणाली के खिलाफ गांव छानीबड़ी में 20 दिन से अनशन और 30 दिन से धरना चल रहा है। खास बात यह है कि पुलिस अनशनकारी को धरना स्थल से दो बार उठा अस्पताल में भर्ती करवा चुकी है, लेकिन अनशनकारी फिर वहीं आकर बैठ जाता है। सोमवार को अनशनकारी अंजनी बंसल ने मांग पूरी नहीं होने पर अनशन जारी रखने के लिए अनूठा तरीका अपनाया। उसने खुद के हाथ-पांव जंजीर से बांध कर ताले लगा लिए, ताकि पुलिस फिर से उसे वहां से जबरन उठा कर नहीं ले जा सके।

बाढ़ का कहर: लोगों में दहशत का माहौल

बिहार के दरभंगा जिले में बाढ़ का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। तटबंधों व बांधों के टूटने का सिलसिला जारी है। इसके साथ ही बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों की संख्या में इजाफा हो रहा है। कमतौल थाने की करजापट्टी पंचायत के बिरने गांव में बीते रविवार की रात लगातार तीसरे दिन अधवारा समूह की धौंस नदी का पूर्वी महाराजी बांध 20 फ़ीट में टूट गया। तटबंध टूटने के डर से लोग ऊंचे स्थानों की ओर जाने लगे हैं। शिवधारा से महमदपुर जाने वाली सड़क पर अधवारा समूह की नदी का पानी लगभग सौ फीट की दूरी में सोमवार से बह रहा है।

भरतपुर में 99 मिमी, जयपुर में 62 मिमी बारिश

राजस्थान में 6 जुलाई को सावन आया भी झूमकर था और 3 अगस्त को गया भी झूमकर। लेकिन बीच के 27 दिनों में सावन प्यासा रहा। सोमवार को जयपुर, अलवर, भरतपुर व धौलपुर सहित कई जिलों में जबर्दस्त बारिश हुई। भरतपुर में रिकॉर्ड 99, अलवर शहर में 98 और जयपुर में 62 मिमी पानी बरसा। सावन के 27 दिनों में प्रदेश में कुल 101.27 मिमी बारिश हुई, जबकि इस दौरान 144.44 मिमी होनी चाहिए थी।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Sister tied love on brother's wrist; Sawan's last Monday, fifth Lord's ride out in Ujjain


from Dainik Bhaskar /local/delhi-ncr/news/sister-tied-love-on-brothers-wrist-sawans-last-monday-fifth-lords-ride-out-in-ujjain-127583079.html
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments