अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन हुआ तो पाकिस्तान बोला- हिंदूवादी ताकतें हावी हुईं, सामान्य वर्ग के आर्थिक पिछड़ों को आरक्षण का मामला संवैधानिक बेंच के पास

बुधवार को देश में दिनभर राम मंदिर की ही गूंज रही। अयोध्या में राम मंदिर की नींव रखी जा चुकी है। मोदी रामलला के दर्शन करने वाले पहले प्रधानमंत्री बने तो संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि सदियों की आस पूरी होने का आनंद है, भारत को आत्मनिर्भर बनाने का अनुष्ठान पूरा हुआ। लेकिन, अगर आप सोच रहे हैं कि मंदिर निर्माण कल से ही शुरू हो जाएगा तो ऐसा नहीं है। दरअसल, अभी इसका नक्शा ही पास नहीं हुआ है। एक नजर डालते हैं कल की बड़ी खबरों की ओर-

पहले बात करते हैं अयोध्या की। 492 साल बाद मंदिर बनने की शुरुआत हुई है। इस दौरान अयोध्या ने कई पड़ाव देखे। मंदिर को तोड़कर मस्जिद बनी। मस्जिद टूटी फिर बनी, फिर टूटी। 167 साल पहले मंदिर को लेकर पहली बार अयोध्या में हिंसा हुई तो 162 साल पहले इस विवाद में पहली एफआईआर हुई। 135 साल पहले मामला कोर्ट तक पहुंचा और 8 महीने 27 दिन पहले रामलला के पुन: विराजमान होने का सुप्रीम फैसला आया। ये आंकड़े अपने आप में कई कहानियां कहते हैं।
सबसे बड़े विवाद की सबसे बड़ी कहानी

बात मंदिर की हो और पाकिस्तान का जिक्र न हो, ऐसा हो नहीं सकता। मंदिर निर्माण पर इमरान खान सरकार में रेल मंत्री शेख रशीद ने मोदी सरकार की आलोचना करते हुए उसे सांप्रदायिक करार दिया है। रशीद ने कहा- भारत अब राम नगर हो गया है। वहां सेक्युलरिज्म नहीं रहा। साफ तौर पर कहूं तो भारत अब सेक्युलर रहा ही नहीं। वहां अल्पसंख्यकों को दिक्कत हो रही है। भारत अब श्रीराम के हिंदुत्व में ढल चुका है।
भारत में अब हिंदूवादी ताकतें हावी

अब आरक्षण से जुड़ी एक अहम खबर की ओर चलते हैंं। जनरल कैटेगरी के आर्थिक पिछड़ों (ईडब्ल्यूएस) को 10% आरक्षण का मामला सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक बेंच (5 जजों की बेंच) को रैफर कर दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस आर सुभाष रेड्डी और बीआर गवई की बेंच ने यह फैसला दिया। कोर्ट ने 31 जुलाई 2019 को सुनवाई के बाद फैसला रिजर्व रख लिया था। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने आर्थिक आधार पर आरक्षण के फैसले पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था।
आर्थिक रूप से पिछड़ों को 10% आरक्षण देने का मामला

चौथी खबर में सोने के भाव के बारे में जानते हैं। सोने की कीमतों में तेजी का रुख बरकरार है। बुधवार को सोने का भाव 55 हजार प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया और चांदी की कीमत 71 हजार प्रति किलो के भाव पर पहुंच गई। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज में कमोडिटी एंड करेंसी के हेड किशोर नारने का कहना है गोल्ड और सिल्वर ने इस साल अब तक 40% और 50% रिटर्न के साथ साल का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है।
सोने की कीमतें 529 रुपए बढ़कर 55,080 रुपए प्रति 10 ग्राम तक पहुंची

खेल जगत की बात करें तो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिकेट शुरू हो चुका है। बुधवार से टेस्ट क्रिकेट में एक बदलाव की शुरुआत की गई है। टेस्ट क्रिकेट में पहली बार ट्रायल के तौर पर इंग्लैंड-पाकिस्तान के बीच 3 टेस्ट की सीरीज से फ्रंट फुट नो बॉल का फैसला मैदान के बजाय टीवी अंपायर करेंगे। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने बुधवार को इसकी घोषणा की। वनडे में पहली बार 2016 में पाकिस्तान-इंग्लैंड के बीच हुई सीरीज से इस तकनीक का ट्रायल के तौर पर इस्तेमाल हुआ था।
टेस्ट क्रिकेट में नई शुरुआत

जानते हैं ग्रह और अंक आज के बारे में क्या बता रहे हैं?

6 अगस्त, गुरुवार को चंद्रमा शतभिषा नक्षत्र के साथ ही कुंभ राशि में रहेगा। जिससे वज्र नाम का अशुभ योग बन रहा है। इस अशुभ योग के कारण मेष, वृष, मिथुन, कर्क और धनु राशि वाले लोगों के कामकाज में रुकावटें आ सकती हैं। जॉब और बिजनेस में विवाद होने की आशंका भी है। दिनभर तनाव और कोई अनजाना डर भी रहेगा। एस्ट्रोलॉजर डॉ. अजय भाम्बी के अनुसार सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक और मकर राशि वाले लोगों के लिए दिन अच्छा रहेगा। इस तरह आज 12 में से 7 राशियों के लिए दिन अच्छा रहेगा।

आज 12 में से 7 राशियों के लिए दिन अच्छा रहेगा

गुरुवार, 6 अगस्त का मूलांक 6, भाग्यांक 9, दिन अंक 3, मासांक 8 और चलित अंक 1, 4 है। न्यूमेरोलॉजिस्ट डॉ. कुमार गणेश के अनुसार गुरुवार को अंक 1 की अंक 4 के साथ विरोधी युति बनी है। अंक 3 की अंक 6 के और अंक 8 के साथ मित्र युति बन रही है। अंक 6 की अंक 1, 4 के साथ विरोधी युति है। अंक 9 के साथ परस्पर विरोधी युति बनी है। अंक 8 की अंक 9 के साथ मित्र युति और अंक 9 की अंक 3 के साथ मित्र युति बन रही है।

अधिकारियों के लिए अनुकूल रह सकता है दिन, धन संबंधी कामों में सावधानी रखें



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
When the work of building the temple started in Ayodhya, Pakistan said- Hinduist forces dominate, the reservation for the general category economic backward was referred to the constitutional bench


from Dainik Bhaskar /business/news/when-the-work-of-building-the-temple-started-in-ayodhya-pakistan-said-hinduist-forces-dominate-the-reservation-for-the-general-category-economic-backward-was-referred-to-the-constitutional-bench-127589955.html
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments