केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान की हार्ट सर्जरी हुई; बेटे चिराग ने कहा- अगले कुछ हफ्तों में दूसरी सर्जरी भी की जा सकती है

नई दिल्ली. बीते एक महीने से अस्पताल में भर्ती केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री मंत्री रामविलास पासवान की हार्ट सर्जरी शनिवार की रात दिल्ली के एक अस्पताल में की गई। उनके बेटे और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) नेता चिराग पासवान ने ट्वीट किया- मेरे पिताजी का दिल्ली के अस्पताल में इलाज चल रहा है। अचानक कुछ वजहों से शनिवार देर रात उनकी हार्ट सर्जरी करनी पड़ गई। अगर जरूरत हुई तो अगले कुछ हफ्तों में दूसरी सर्जरी भी संभव है। आप सभी का मुश्किल की इस घड़ी में मेरे और मेरे परिवार के साथ खड़े होने के लिए शुक्रिया।

शनिवार को बिहार विधानसभा चुनाव में लोजपा और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बीच गठबंधन पर फैसला के लिए बैठक होने वाली थी। हालांकि, पासवान की खराब सेहत को देखते हुए यह बैठक टाल दी गई।

चिराग ने पार्टी कार्यकर्ताओं से किसी भी स्थिति के लिए तैयार रहने को कहा था

सितंबर में चिराग ने कहा था कि उनकी पिता की तबीयत खराब है। ऐसे में विधानसभा चुनाव में सीट शेयरिंग और दूसरे मुद्दों पर चर्चा के लिए उनके बिहार दौरे में देर हो सकती है। इसके बाद उन्होंने पार्टी समर्थकों से मुलाकात भी की थी और उन्हें किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा था।

एनडीए में सीटों को बंटवारे को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए राष्ट्रीय लोकतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में सीटों के बंटवारे को लेकर अब भी स्थिति स्पष्ट नहीं हुई है। बीजेपी ने पहले कहा था कि यह जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के गठबंधन में चुनाव लड़ेगी। बिहार की 243 विधानसभा सीटों में एनडीए गठबंधन में शामिल लोजपा ज्यादा सीटों की मांग कर रही है। बिहार में तीन चरणों में 28 अक्टूबर और 3 और 7 नवम्बर को विधानसभा चुनाव होगा। वोटों की गिनती 10 नवम्बर को होगी।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान हार्ट से जुड़ी समस्याएं होने की वजह से दिल्ली के अस्पताल में भर्ती हैं।- फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar /national/news/union-minister-ram-vilas-paswan-had-heart-surgery-son-chirag-said-in-the-next-few-weeks-another-surgery-can-also-be-done-127779424.html
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments